सर्व भाषा ट्रस्ट

सर्व भाषा ट्रस्ट

गणेश चौथ पर भेड़ा काटना

माघ मास का गणेश चौथ। गणपति बप्पा मोरया कह कर मूर्ति विसर्जित करने वाला नहीं, माघ के कृष्ण पक्ष का गणेश चतुर्थी व्रत। थोड़ा क्या, स्नातक पास करने और परास्नातक में लोक-साहित्य पढ़ते समय पता चला कि इस व्रत को संकट चौथ भी कहा जाता है। संकट चौथ का यह त्योहार माघ के कृष्ण चतुर्थी […]

सर्व भाषा ट्रस्ट

आउ बढि चलू

एक दृढ़ उद्घोष संग आउ बढि चलू नीरव नभ कैं नीलिमा लै चान के शीतलता , वायु के मादकता संग तीक्ष्णता के पार चलू । आउ बढि चलू । सागर कैं कलकल , निर्झर कैं उनमत्त्ता , पर्वत के ऊंचाइ नांघि कटुता मेटवति चलू । आउ बढि चलू । सीख ली निश्छल शैशवतास जीत ली […]

Sarv Bhasha Trust

My Dreams

My dreams now are no more, Are limitless, conditioned A propitious day the angle held me Opened the horizon ahead of me. Though tough it was but I did. A step at time….some baby steps, Holding my hands, walking beside me Gazed in my eyes and set me free. Strange it was in the crowd […]

सर्व भाषा ट्रस्ट

डोगरी गीत

डोगरें दी वीरता दा मान डोगरी। सच्च पुच्छो साढ़ी ऐ पनछान डोगरी।। पलेआ मठोआ तेरै अंगन पसार। तेरे कोला थ्होआ सारी दुनिया दा प्यार।। हड्ड मास साढ़ी जिंद जान डोगरी। डोगरें दी वीरता दा मान डोगरी। सच्च पुच्छो साढ़ी ऐ पनछान डोगरी।। तेरे कन्नै प्हाड़ें दा शंगार डोगरी। तेरे कन्नै सोभदी ऐ ब्हार डोगरी।। कोयलै […]

सर्व भाषा ट्रस्ट

म्हारै गाँव

शहरां रा धुँवा में बळता मिनखं भाजा-दौड़ी मोकळो,अनाप-सनाप पइसौ मिनखां रौ बैरी जीवतौ खावै पण इणनै कुंण बतावै जलमियां रै पसै उणमें ही ढुल जावै भर-भर बौरंया घर-घर मांय ल्यावै पण उणनै कुंण समझावै पगां-पोतियां,पुरखां नै भूल जावै बूढाँ नै टाइम पर बाटी नी दैवे छोड़ सगळो काज भांत भांत रा सीरियाला मांय आंखिया गाळे […]