Maithili

सर्व भाषा ट्रस्ट

आउ बढि चलू

एक दृढ़ उद्घोष संग आउ बढि चलू नीरव नभ कैं नीलिमा लै चान के शीतलता , वायु के मादकता संग तीक्ष्णता के पार चलू । आउ बढि चलू । सागर कैं कलकल , निर्झर कैं उनमत्त्ता , पर्वत के ऊंचाइ नांघि कटुता मेटवति चलू । आउ बढि चलू । सीख ली निश्छल शैशवतास जीत ली […]